Tuesday, 16 April 2013

Shayari in Hindi - Page 4

दूरियाँ बढ़ाने को जब दिल मचलने लगे,
किसी और का साथ रास आने लगे,
तन्हाई में ठहर कर तलाशना मुझे,
जब भी हर ओर अँधेरा सा छाने लगे.

No comments:

Post a Comment

Note: only a member of this blog may post a comment.