Friday, 1 November 2013

पयार भरी शायरी हिन्दी मे






पयार भरी शायरी

कहीं अंधेरा तो कहीं शाम होगी,
मेरी हर खुशी तेरे नाम होगी,
कभी माँग कर तो देख हमसे ऐ दोस्त,
होंठों पर हँसी और हथेली पर जान होगी..

No comments:

Post a Comment

Note: only a member of this blog may post a comment.